यहाँ आपको Top 10 Vinod Agrawal bhajans Lyrics बेहतरीन विनोद अग्रवाल भजन लिरिक्स मिलेंग। यह Top 10 Vinod Agrawal bhajans Lyrics विनोद अग्रवाल भजन लिरिक्स सबसे ज्यादा लोकप्रिय तथा सबसे ज्यादा सुने जाने वाले भजन है। हम उम्मीद करते हैं आपको यह Top 10 Vinod Agrawal bhajans Lyrics विनोद अग्रवाल भजन लिरिक्स पसंद आएंगे।

  1. Phoolon Mein Saj Rahe Hain
  2. Mera Aap Ki Kripa Se
  3. Hey Gopal Radha Krishna Govind Govind
  4. Gopal Muraliya wale
  5. Shyam Naal Akh Lad Gayi
  6. Mere Sir Par Haath Rakho Radha Rani
  7. Jaha Le Chalogi Vahi Main Chaluga
  8. Shyam Bhang Holi Mein
  9. Sohne Mukhde Da Len De Najara
  10. Main To Tum Sang Holi Khelungi

1. Phoolon Mein Saj Rahe Hain फूलो में सज रहे हैं

फूलों में सज रहे है,
श्री वृन्दावन बिहारी ।
और साथ सज रही है,
वृषभान की दुलारी ।।

टेढ़ा सा मुकुट सर पर,
रखा है किस अदा से ।
करूणा बरस रही है,
करूणा भरी निगाह से ।
बिन मोल बिक गई हूँ,
जब से छवि निहारी ।।
फूलों में सज रहे है,
श्री वृन्दावन बिहारी ।

बहियाँ गले में डाले,
जब दोनों मुस्कुराते ।
सबको ही प्यारे लगते,
सबके ही मन को भाते ।
इन दोनों पे मैं सदके,
इन दोनों पे मैं वारी ॥
फूलों में सज रहे है,
श्री वृन्दावन बिहारी ।

शृंगार तेरा प्यारा,
शोभा कहूँ क्या उसकी ।
इतपे गुलाबी पट का,
उतपे गुलाबी सारी ।
फूलों में सज रहे है,
श्री वृन्दावन बिहारी ।

नीलम से सोहे मोहन,
स्वर्णिम सी सोहे राधा ।
इत नन्द का है छोरा,
उत भान की दुलारी ।
फूलों में सज रहे है,
श्री वृन्दावन बिहारी ।

चुन – चुन के कलियाँ जिसने,
बंगला तेरा बनाया ।
और दिव्य आभूषणों से,
जिसने तुझे सजाया ।
उन हाथों पे मैं सदके,
उन हाथों पे मैं वारी ।।

फूलों में सज रहे है,
श्री वृन्दावन बिहारी ।
और साथ सज रही है,
वृषभान की दुलारी ।।

2. Mera Aap Ki Kripa Se मेरा आपकी कृपा से

मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है
करते हो तुम कन्हैया मेरा नाम हो रहा है

पतवार के बिना ही मेरी नाव चल रही है
बिन मांगे हे कन्हैया हर चीज मिल रही है
अब क्या बताऊ मोहन आराम हो रहा है
मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है

मेरी जिंदगी में तुम हो किस बात की कमी है
मुझे और अब किसी की परवाह भी नही है
तेरी बदौलतो से सब काम हो रहा है
मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है

दुनिया में होंगे लाखो तेरे जैसा कौन होंगा
तुज जैसा बंदा परवर भला ऐसा कौन होगा
अरे थामा है तेरा दामन आराम हो रहा है
मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है

3. Hey Gopal Radha Krishna Govind Govind हे गोपाल राधे कृष्ण गोविंद गोविंद

हे गोपाल राधे कृष्ण गोविंद गोविंद
हे गोपाल राधे कृष्ण गोविंद गोविंद कृष्ण गोविंद गोविंद कृष्ण गोविंद गोविंद
गोपाल राधा कृष्ण गोविंद गोविंद
रसना में अगर तेरा नाम रहे
जग में फिर नाम रहे ना रहे
मन मंदिर में घनश्याम रहे
झूठा संसार रहे ना रहे
दिन रैन हरि का ध्यान रहे
कोई और फिर ध्यान रहे ना रहे
तेरी कृपा का अभिमान रहे
कोई और अभिमान रहे ना रहे
गोपाल राधा कृष्ण गोविंद गोविंद
कृष्ण गोविंद गोविंद कृष्ण गोविंद गोविंद
गोपाल राधा कृष्ण गोविंद गोविंद

मेरा यार नंदनंदन हो चुका
वह जां हो चुका वह जिगर हो चुका है
यह सच जानिए उसकी हर इक अदा पर जो कुछ पास था वो नजर हो चुका है।
जगत की सभी खुशियां मैंने छोड़ी
जो दिल था इधर अब वो उधर हो चुका है। वो उस मस्त की खुद ही लेता है खबर जो उसके लिए बेखबर हो चुका है।
हे गोपाल राधे कृष्ण गोविंद गोविंद कृष्ण गोविंद गोविंद कृष्ण गोविंद गोविंद
गोपाल राधा कृष्ण गोविंद गोविन्द
असी अपना श्याम मनावा गे
साथो जगत मनाया नहीं जांदा
असी अपना श्याम रिझावा गे
साथो जगत रिझाया नहीं जादां
असी श्याम दे हां श्याम साडा है
ऐ भेद छुपाया नहीं जा दान

इस दिल विच सूरत शाम दी ए
कोई होर वसायां नहीं जांदा
हे गोपाल राधे कृष्ण गोविंद गोविंद कृष्ण गोविंद गोविंद
गोपाल राधा कृष्ण गोविंद

सारे जग दिया खुशियां इक पासे
मेरा श्याम प्यारा इक पासे
दुनिया का चानन इक पासे
मेरे श्याम दा उजियारा इक पासे
गोपाल राधा कृष्ण गोविंद गोविंद
कृष्ण गोविंद गोविंद कृष्ण गोविंद गोविंद
गोपाल राधा कृष्ण गोविंद गोविंद।।

4. Gopal Muraliya wale गोपाल मुरलिया वाले

गोपाल मुरलिया वाले, नंदलाल मुरलिया वाले,
हे गोपाल मुरलीया वाले, नंदलाल मुरलिया वाले,
श्री राधा जीवन नीलमणि, गोपाल मुरलिया वाले,
गोपाल मुरलीया वाले, नंदलाल मुरलिया वाले,
श्री राधा जीवन नीलमणि, गोपाल मुरलिया वाले,
तुम्हे देख कर आज जी चाहता है,
तुम्हे देख कर आज जी चाहता है,
तुम्हे प्राण प्रीतम आँखों में बिठा,
अगर आसमान तक रसाई हो अपनी,
तुम्हे आज तारों की माला पहनाएं,
तुम्हे आज तारों की माला पहनाएं,
तेरे पाँव धोये हम फूलों के रस से,
तेरे पाँव धोये हम फूलों के रस से,
और तुम्हे आज नहलाये हम चांदनी से,
बड़ी देर से दीद के मुंतजिर हैं,
जो तुम मुस्कराओ तो हम मुस्कराएं,

जिन्हे देखने के लिए हम, जिए जा रहे हैं,
वे परदे पे परदा, किए जा रहे हैं,
मैं मर तो लिया होता, कब का मुरारी,
तेरे वादे सहारा, किए जा रहे है,
उठालोगे पर्दा, कभी रहम खाकर,
इसी आस पर, हम जिए जा रहे,
मेरी ज़िंदगानी, अमानत है तेरी,
तेरे नाम अर्पण, किए जा रहे है,
कन्हैया मेरा दिल, हिफाजत से रखना,
तुम्हे अपना समझकर, दिए जा रहे है,
गोपाल मुरलीया वाले, नंदलाल मुरलिया वाले,
श्री राधा जीवन नीलमणि,गोपाल मुरलिया वाले,

गोपाल मुरलीया वाले, नंदलाल मुरलिया वाले,
गोपाल मुरलिया वाले, नंदलाल मुरलिया वाले,
श्री राधा जीवन नीलमणि, गोपाल मुरलीया वाले,
गोपाल मुरलीया वाले, नंदलाल मुरलिया वाले,
श्री राधा जीवन नीलमणि, गोपाल मुरलिया वाले

5. Shyam Naal Akh Lad Gayi श्याम नाल अख्ख लड़ गई

लड़ गई लड़ गई लड़ गई,
श्याम नाल अख्ख लड़ गई ll
अख्ख लड़ गई, मेरी अख्ख लड़ गई ll
होए,,लड़ गई लड़ गई,,,,,,,,,,,,

खड़ी खड़ी मैं, खिड़ खिड़ हस्सां
लोकी पूछन, की की दस्सां
होए,, बिन पीऐ ही चढ़ गई,
श्याम नाल अख्ख लड़ गई
अख्ख लड़ गई, मेरी अख्ख लड़ गई
होए,,लड़ गई लड़ गई,,,,,,,,,,,,

न विच मंदिर, न ही मसीतां
न जाना तू, जान हरी का
होए,, यार दी पल विच बन गई,
श्याम नाल अख्ख लड़ गई
अख्ख लड़ गई, मेरी अख्ख लड़ गई
होए,,लड़ गई लड़ गई,,,,,,,,,,,,

लुकदी फिरदी, न मैं पल पल
जांदी पई सां, मन्दिराँ पल पल
हुए,, जांदी जांदी पड़ गई,
श्याम नाल अख्ख लड़ गई
अख्ख लड़ गई, मेरी अख्ख लड़ गई
होए,,लड़ गई लड़ गई,,,,,,,,,,,,

6. Mere Sir Par Haath Rakho Radha Rani सबके सिर पे हाथ रखदो राधा रानी

मेरे सिर पे हाथ रखदो राधा रानी,
आज हमारी बात मानलो हे महारानी,
सबके सिर पे हाथ रखदो राधा रानी,
हे महारानी, हे महारानी, राधे रानी,
सबको भव से पार करदो हे महारानी,
सबके सिर पे हाथ रखदो राधा रानी ॥

बड़ी दूर से चल कर आया,
देखो माँ क्या भेंट हूं लाया,
आसुवन मोती हार पिरोया,
श्रद्धा भक्ति से इसे संजोया,
मेरी ये सौगात रख लो हे महारानी,
आज हमारी बात मानलो हे महारानी,
सबके सिर पे हाथ रखदो राधा रानी………

ये जग है इक झूठा सपना,
कोई यहां नहीं है अपना,
मुझको मैया पास बुलालो,
जैसा भी हूं गले लगालो,
चरण कमल मे वास दे दो राधा रानी,
आज हमारी बात मानलो राधा रानी,
सबके सिर पे हाथ रखदो राधा रानी………

दर्शन दो बस आस यही है
मेरी तो अभिलाष यही है
दर्शन देकर पाप भगादो
मेरे सोये भाग जगादो
चरण कमल मे वास दे दो राधा रानी,
आज हमारी बात मानलो राधा रानी,
सबके सिर पे हाथ रखदो राधा रानी………

आशाओं में घीरा पड़ा हूं,
शरण मैं तेरी आन पड़ा हूं,
मोह माया ने मुझको घेरा,
दूर करो मेरे मन का अंधेरा,
दया द्रष्टि दिन रात रखदो राधा रानी,
आज हमारी बात मानलो राधा रानी,
सबके सिर पे हाथ रखदो राधा रानी,
राधा रानी, राधा रानी, हे महारानी,
राधा रानी, राधा रानी, हे महारानी…….

7. Jaha Le Chalogi Vahi Main Chaluga जहाँ ले चलोगे वहीं मैं चलूँगा

जहाँ ले चलोगे वहीं मैं चलूँगा,
जहां नाथ रख लोगे, वहीं मैं रहूँगा।

यह जीवन समर्पित चरण में तुम्हारे,
तुम्ही मेरे सर्वस तुम्ही प्राण प्यारे।
तुम्हे छोड़ कर नाथ किससे कहूँगा,
जहाँ ले चलोगे वहीं मैं चलूँगा॥

ना कोई उलाहना, ना कोई अर्जी,
करलो करालो जो है तेरी मर्जी।
कहना भी होगा तो तुम्ही से कहूँगा,
जहाँ ले चलोगे वहीं मैं चलूँगा॥

दयानाथ दयनीय मेरी अवस्था,
तेरे हाथ अब मेरी सारी व्यवस्था।
जो भी कहोगे तुम, वही मैं करूँगा,
जहाँ ले चलोगे वहीं मैं चलूँगा॥

8. Shyam Bhang Holi Mein श्याम भंग होली में

चढ़ गयी चढ़ गई श्याम भंग होली में ।

तन में चढ़ गई मन में चढ़ गई,
रोम रोम में मेरे राम गई ।
चढ़ गई पूरा पूरी, श्याम भंग होली में ॥

तू रंग डाले, मैं रंग डालूं,
वस्त्र आभूषण कैसे संभालूं ।
हो गई जोरा जोरी, श्याम भंग होली में ॥

गोपी खेले ग्वाले खेले,
एक दूजे के मुख रंग मेले ।
रंग गई राधा गोरी, श्याम भंग होली में ॥

नटखट श्याम बंसी बजावे,
मैं नाचूं मोहे लाज ना आए ।
छम छम बाजे पायल, निगोड़ी होली में ॥

9. Sohne Mukhde Da Len De Najara सोहने मुखड़े दा लैन दे नज़ारा

सोहने मुखड़े दा लैन दे नज़ारा,
वे केहडा तेरा मुल्ल लगदा ।
एहना अंखिया दा होण दे गुजारा,
वे केहडा तेरा मुल्ल लगदा ॥

हुसन तेरे दी खैर मनावां,
जे तक्क लै तां मैं तर जावां ।
ऐवें निक्का जेहा कर दे इशारा,
वे केहडा तेरा मुल्ल लगदा ॥

मैं लज्जत ए इंतज़ार लेता हूँ, यूँ शब ए गम गुजार लेता हूँ
जब भी डसती हैं मुझ को तन्हाहिया, मैं नाम तेरा पुकार लेता हूँ

अँखिआ दे विच्च अँखिया पाके ,
कर दिता जादू ओहने नज़रां मिला के ।
तेरे बिना नहीं हुँदा है गुजारा,
वे केहडा तेरा मुल्ल लगदा ॥

एह इश्क दी मर्जी अनोखी है, नहीं कटदी वैद हकीमां तो,
तेरे सामने मर जावा कट जावण, मेरे दर्द दा चारा तू है

बिन तेरे मैं रह नहिओ सकदा,
दर्द जुदाई दा सेह नहिओ सकदा ।
साढ़े दिल दी तू सुन लै पुकारां,
वे केहडा तेरा मुल्ल लगदा ॥

ज़रा नाज़ां वालेया सामने आ, अज्ज अँखिया मिलान नु जी करदा,
तेरे हुसैन दे लिश्कारे अग्गे, साडा कतल हो जान नू जी करदा

10. Main To Tum Sang Holi Khelungi मैं तो तुम संग होरी खेलूंगी

मैं तो तुम संग होरी खेलूंगी, मैं तो तुम संग
वा वा रे रासिया, वा वा रे छैला
वा रे लंगरवा, होरी के घरवा

सास ससुर ने नाही डरूंगी,
सईया के बोल सब सह लुंगी, होरी खेलूंगी

ना चाहिए अब महल अटरयिा
छोटी सी झोपड़िया में रह लूंगी, होरी खेलूंगी

ना चाहिए हमे मख्खन राबड़ी
खट्टी छाछ ही पी लुंगी, होरी खेलूंगी

चन्द्र सखी को रमन गोपी संग
दिल की बतिया कह लुंगी, होरी खेलुँगी

Added by

admin

SHARE

Your email address will not be published.