यहाँ आपको Top 10 Sohar Geet Lyrics बेहतरीन सोहर गीत लिरिक्स मिलेंग। यह Top 10 Sohar Geet Lyrics बेहतरीन सोहर गीत सबसे ज्यादा लोकप्रिय तथा सबसे ज्यादा सुने जाने वाले भजन है। हम उम्मीद करते हैं आपको यह Top 10 Sohar Geet Lyrics बेहतरीन सोहर गीत लिरिक्स पसंद आएंगे।

Sohar Geet

Sohar Geet में बच्चे के जन्म, उसके घर वालों से संबंधित बातें, पकवानों और त्यौहारों से जुड़ी बातें शामिल होती हैं। Sohar रामनवमी और कृष्ण जन्माष्टमी के दिन भजन के तौर पर भी गाया जाता है। Sohar Geet मुख्य रूप से Uttar Pradesh और Bihar का लोकगीत है।

Top 10 Sohar Geet Lyrics | बेहतरीन सोहर गीत लिरिक्स

1. Nand Ghar Bajat Badhaiya नन्द घर बजत बधईयाँ Bhajan Lyrics

Singer – Pandit Chhannulal Mishra

नन्द घर बजत बधईयाँ यशोदा घर सोहर हो
ललना जन्में हैं कृष्ण कन्हैया तीनों ही कुल
तारन हो ये ललना जन्में है कृष्ण कन्हैया
तीनो ही कुल तारन हो ||

बोलवहू नगर से डगरीन नरीया कटावहुं हो
ललना ले आवहुं, सोने के कठौतिया त कान्हा
नहलावहु कन्हईया नहलावहु हो ||

ले आव बांस के सुपलवा कन्हईया निहुछावहु
हो ललना ले आवहु पियर पिताम्बर कन्हईया
पहिनावहु कान्हा पहिनावहु हो ||

ले आवहु सोने के मुकटवा त मोर पंख लगावल हो ललना लें
आवहु पैर पयजनीयां
तो कान्हा पहिनावहु कन्हइया पहिनावाहु हो ||

कान्हा के पांव पयजनीया तो बड़ा निक लागेला
मनमा के भावेला हो ललना झूम झूम बजे
पयजनियां अजब मन मोहेला हो ||

ठुमकी ठुमकी कान्हा चललन नन्द राजा के
आँगन हो ललना विहसी विहसी मनमा मोहत
यशोदा रानी धन्य भइलन हो ||

ले आवहू सोने के सिंहासन तो कान्हां बैठावहु
कन्हइया बैठावहु हो ललना ले आवहु
सूरही गाय के दूधवा तो कान्हा के पिलावहुं
यशोदा घर बजेला बधईया सखीअ सब सोहर
गावय हो ललना नन्द लुटावत हिरा, मोतिया तो कुल
के तारन अइलन हो ||

2. Gokul Me Baje Badhai गोकुल में बाजे बधाई Bhajan Lyrics

Singer – Ravi Raj

ब्रज में बाजे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

गोकुल में बाजे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

कृष्ण कन्हाई, कृष्ण कन्हाई,
कृष्ण कन्हाई, कृष्ण कन्हाई |

ब्रज में खुशिया छाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

ब्रज में बाजे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

ब्रज में बाजे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

गोपी ग्वाले दौड़े आये,
नंदबाबा को खबर सुनाये,

नंदबाबा ने खोले खजाने,
दोनों हाथ से लगे लुटाने,
हीरे मोती लगे लुटाने,

सब मिल देवे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

ब्रज में बाजे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

ब्रज में बाजे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

ए री सखी सब मंगल गावो,
कान्हा को काला टीका लगावो |
नजर न लागे मेरे ललना को,
मात यशोदा झुलाये पलना को ||

बांटे खूब मिठाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

ब्रज में बाजे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

ढोलक ढोल मंजीरे बाजे,
गोपी ग्वाल सब मिलजुल नाचे,
नाचे मोर पपीहा बोले,
बृज वासी मस्ती में डोले,

ब्रज में धूम मचाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

ब्रज में खुशिया छाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

ब्रज में बाजे बधाई,
जनम लियो कृष्ण कन्हाई ||

3. Nand Lala Pragat Bhaye Aaj नन्द लाला प्रगट भये आज Bhajan Lyrics

Singer – Baba Shree Chitra Vichitra Ji Maharaj

नन्द लाला प्रगट भये आज,
बिरज में लडुआ बाटे,
लडुआ बटे री पेड़ा बटे री,
नन्द लाला प्रगट भये आज,
बिरज में लडुआ बाटे ||

नन्द लाला प्रगट भये आज,
बिरज में लडुआ बाटे,
लडुआ बटे री पेड़ा बटे री,
नन्द लाला प्रगट भये आज,
बिरज में लडुआ बाटे ||

केसर कस्तूरी की भर दो तलैया,
केसर कस्तूरी की भर दो तलैया,
भर दो तलैया और बांटो मिठैया,
और मोहरों की कर दो बरसात,
बिरज में लडुआ बाटे ||

नन्द लाला प्रगट भये आज,
बिरज में लडुआ बाटे ||

सौ मन दूध की खीर बनाओ,
सौ मन दूध की खीर बनाओ,
मेवा केसर खूब मिलावो,
साधू ब्राह्मण जिमवो हजार,
बिरज में लडुआ बाटे ||

नन्द लाला प्रगट भये आज,
बिरज में लडुआ बाटे ||

भर-भर थाली सखियाँ लाई,
भर-भर थाली सखियाँ लाई,
यशोदा जी को देन बधाई,
होवे लाला की जय जयकारा,
बिरज में लडुआ बाटे ||

नन्द लाला प्रगट भये आज,
बिरज में लडुआ बाटे ||

नन्द लाला प्रगट भये आज,
बिरज में लडुआ बाटे,
लडुआ बटे री पेड़ा बटे री,
नन्द लाला प्रगट भये आज,
बिरज में लडुआ बाटे ||

4. Badhaiyaa Baje Aangan Mein बधइया बाजे आंगने में Bhajan Lyrics

Singer – Priyanka Singh, Om Jha, Deepak Singh

बधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे
राम लखन शत्रुहन भरत जी झूले कंचन पालने में .
बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे

राजा दसरथ जी रतन लुटावै,
राजा दसरथ जी रतन लुटावै,
लाजे ना कोउ माँगने में .
बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे

प्रेम मुदित मन तीनों रानी,
प्रेम मुदित मन तीनों रानी,
शगुन मनावे मन ही मन में
बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे

राम जनम को कौतुक देखत,
राम जनम को कौतुक देखत,
बीती रजनी जागने में
बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे

बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे
राम लखन शत्रुहन भरत जी झूलें कंचन पालने में .
बधैया बाजे आंगने में बधैया बाजे

राजा दसरथ रतन लुटावै,
राजा दसरथ रतन लुटावै,
लाजे ना कोउ माँगने में .
बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे

प्रेम मुदित मन तीनों रानी,
प्रेम मुदित मन तीनों रानी,
शगुन मनावे मन ही मन में
बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे

राम जनम को कौतुक देखत,
राम जनम को कौतुक देखत,
बीती रजनी जागने में
बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे

बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे
राम लखन शत्रुहन भरत जी झूले कंचन पालने में .
बाधइया बाजे आंगने में बाधइया बाजे

5. Jug Jug Jiya Su Lalanwa जुग जुग जियसु ललनवा Bhajan Lyrics

Singer – Kumkum Bihari

जुग – जुग जियसु ललनवा,
भवनवां के भाग्य जागल हो |

ललना लाल होई हैं,
कुलवा के दीपक,
मनवा में आस जागल हो ||

आजु के दिनवां सुहावन,
रतिया लुभावन हो |

ललना दिदिया के जन्में होरिलवा,
होरिलवा बड़ा सुन्दर हो ||

जुग – जुग जियसु ललनवा,
भवनवां के भाग्य जागल हो |

ललना लाल होई हैं,
कुलवा के दीपक,
मनवा में आस जागल हो ||

नकिया तो होवे जैसे बाबूजी के,
अँखियाँ तो माई के हो |

ललना मुखवा तो,
चाँद सुरजवा तो,
सगरो अंजोर भैले हो ||

जुग – जुग जियसु ललनवा,
भवनवां के भाग्य जागल हो |

ललना लाल होई हैं,
कुलवा के दीपक,
मनवा में आस जागल हो ||

सासू सुहागिन भागिन तो,
अनधन लुटा वेली हो |

ललना दुआरा पे बाजे बधैय्या,
आँगन उठे सोहर हो ||

जुग – जुग जियसु ललनवा,
भवनवां के भाग्य जागल हो |

ललना लाल होई हैं,
कुलवा के दीपक,
मनवा में आस जागल हो ||

नाचि – नाचि गावेली ननदिया,
तो ललन का खेला वेली हो |

ललना हसि – हसि टिहुकी चलावे,
तो रस बरसा वेली हो ||

जुग – जुग जियसु ललनवा,
भवनवां के भाग्य जागल हो |

ललना लाल होई हैं,
कुलवा के दीपक,
मनवा में आस जागल हो ||

6. Dhan dhan nagar ayodhya धन धन नगर अयोध्‍या Bhajan Lyrics

Singer – Pandit Rajkumar Shastri

धन धन नगर अयोध्‍या,
धन राजा दशरथ, धन राजा दशरथ हो
अब धन री कौशिल्‍या तोरे भाग राम जहॉं जनमे
रमइया जहॉं जनमे हो
धन धन नगर अयोध्‍या,
धन राजा दशरथ, धन राजा दशरथ हो
अब धन री कौशिल्‍या तोरे भाग राम जहॉं जनमे
रमइया जहॉं जनमे हो

सोहर अंतरा –
जउने दिन रामा जनम भे हैं धरती अनन्‍द भई
धरती अनन्‍द भई हो
अब बजे लगी अनन्‍द बधइयॉं गावेंरी सखी सोहर
गावेरी सखी सोहर हो
सखी बजे लगी अनन्‍द बधइयॉं गावेंरी सखी सोहर
गावेरी सखी सोहर हो

जउने दिन रामा जनम भे हैं मोतियन लुट भई
मोतियन लुट भई हो
अब मोतिया के नाक बेसरिया कोशिल्‍या नथ सोहे
कौशिल्‍या नथ सोहे हो

जउने दिन रामा जनम भे हैं मोतियन लुट भई
मोतियन लुट भई हो
अब मोतिया के नाक बेसरिया कोशिल्‍या नथ सोहे
कौशिल्‍या नथ सोहे हो

धन धन नगर अयोध्‍या,
धन राजा दशरथ, धन राजा दशरथ हो
अब धन री कौशिल्‍या तोरे भाग राम जहॉं जनमे
रमइया जहॉं जनमे हो ||

7. Yashoda Maiya De Do Badhai यशोदा मैय्या देदो बधायी Bhajan Lyrics

Singer – Priti Radhe

लल्ला की सुनके मै आई,
यशोदा मैय्या देदो बधायी |
कान्हा की सुनके मै आई,
यशोदा मैय्या देदो बधायी ||

लल्ला जनम सुन आई,
यशोदा मैय्या देदो बधायी ।

देदो बधाई मैय्या देदो बधायी,
लल्ला की सुनके मै आई,
यशोदा मैया देदो बधायी ।

टीका भी लूँगी मैय्या,
बिंदियां भी लूँगी |
रेशम की लूँगी रजायी,
यशोदा मैय्या देदो बधाई ।

साड़ी भी लूँगी मैय्या,
लहँगा भी लूँगी |
धोती भी लूँगी मैय्या,
कुर्ता भी लूँगी |
पगड़ी की होगी चढ़ाई,
यशोदा मैय्या देदो बधाई ।

हरवा भी लूँगी मैया,
चूड़ी भी लूँगी |
कंगना पे होगी चढ़ायी,
यशोदा मैय्या देदो बधाई।

चन्द्र सखी भज,
बाल कृष्ण छवि |
नित नित जाऊँ बलिहारी,
यशोदा मैय्या देदो बधायी ।

लल्ला की सुनके मै आई,
यशोदा मैय्या देदो बधायी |
कान्हा की सुनके मै आई,
यशोदा मैय्या देदो बधायी ||

लल्ला जनम सुन आई,
यशोदा मैय्या देदो बधायी ।

देदो बधाई मैय्या देदो बधायी,
लल्ला की सुनके मै आई,
यशोदा मैया देदो बधायी ।

8. Chaarpaai Pe Khel Raha Lalna Mera चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा Bhajan Lyrics

चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा,
चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा ||

पलंग पे खेल रहा ललना मेरा,
पलंग पे खेल रहा ललना मेरा ||

लेलो लेलो ऐ सासु जी ललना मेरा,
लेलो लेलो ऐ सासु जी ललना मेरा ||

तुमको दादी कहेगा ललना मेरा,
तुमको दादी कहेगा ललना मेरा ||

चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा,
चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा ||

लेलो लेलो ऐ ससुर जी ललना मेरा,
लेलो लेलो ऐ ससुर जी ललना मेरा ||

तुमको बाबा कहेगा ललना मेरा,
तुमको बाबा कहेगा ललना मेरा ||

चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा,
चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा ||

लेलो लेलो ऐ देवर जी होरिला मेरा,
लेलो लेलो ऐ देवर जी होरिला मेरा ||

तुमको चाचा कहेगा होरिला मेरा,
तुमको चाचा कहेगा होरिला मेरा ||

चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा,
चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा ||

लेलो लेलो ऐ बाबूजी ललना मेरा,
लेलो लेलो ऐ बाबू जी ललना मेरा ||

तुमको नाना कहेगा ललना मेरा,
तुमको नाना कहेगा ललना मेरा ||

चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा,
चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा ||

लेलो लेलो ऐ ननद जी ललना मेरा,
लेलो लेलो ऐ ननद जी ललना मेरा ||

तुमको बुआ कहेगा ललना मेरा,
तुमको बुआ कहेगा ललना मेरा ||

चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा,
चारप‍इया पे खेल रहा ललना मेरा ||

पलंग पे खेल रहा ललना मेरा,
पलंग पे खेल रहा ललना मेरा ||

9. Badhaiya Baje Nand Ke Dware बधैया बाजेआज नन्द द्वारे Bhajan Lyrics

Singer – Nisha Upadhyay

बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे ||

कौन लुटावे अन्न धन सोना,
कौन लुटावे अन्न धन सोना,
कौन लुटावे वस्त्र भैया ||

बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे ||

बाबा लुटावे अन्न धन सोना,
बाबा लुटावे अन्न धन सोना,
मैया लुटावे वस्त्र भैया ||

बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे ||

आँगन में सखी नाचे गांवे,
द्वारे बजे सहनैया,
चलो सखी नयन सफल करी आवें,
प्रगटे कुंवर कन्हैया |

बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे ||

नन्द को लाल सखा ग्वालन को,
बलदाऊ को भैया,
दही हरदी की कीच मची है,
बाबा के आन्गनैया ||

बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे ||

चढ़े विमान सुमन सुर बरसे,
देत हैं ननद दुहैया,
देत आशीष गोप गोपी जन,
चिरजीवी दोउ भैया ||

बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजे, बधैया बाजे,
बधैया बाजेआज नन्द द्वारे, बधैया बाजे ||

10. Lutan Chalo Raja Ke Angnaiya लुटन चलो राजन के अंगनैया Bhajan Lyrics

लुटन चलो राजन के अंगनैया,
लुटन चलो राजन के अंगनैया ||

लुटन चलो राजन के अंगनैया,
लुटन चलो राजन के अंगनैया ||

अंतरा –
के री लुटावत अनधन सोनवा,
के री लुटावत अनधन सोनवा,
के री दान देत गैया |
लुटन चलो राजन के अंगनैया ||

राजा लुटावत अनधन सोनवा,
राजा लुटावत अनधन सोनवा,
रानी दान देत गैया |
लुटन चलो राजन के अंगनैया ||

कौन-कौन जी आनद मनावत,
कौन-कौन जी आनद मनावत,
का करई तीनो मैया |
लुटन चलो राजन के अंगनैया ||

राजा दशरथ जी आनद मनावत,
राजा दशरथ जी आनद मनावत,
मंगल गावत तीनो मैया |
लुटन चलो राजन के अंगनैया ||

नर – नारी सब नाचत गावत,
नर – नारी सब नाचत गावत,
तुलसी जी लेत बलैया |
लुटन चलो राजन के अंगनैया ||

लुटन चलो राजन के अंगनैया |
लुटन चलो राजन के अंगनैया ||

Added by

admin

SHARE

Your email address will not be published.