यहाँ आपको Top 10 Hariom Sharan Bhajan Lyrics हरिओम शरण भजन लिरिक्स मिलेंग। यह Top 10 Hariom Sharan Bhajan Lyrics हरिओम शरण भजन लिरिक्स सबसे ज्यादा लोकप्रिय तथा सबसे ज्यादा सुने जाने वाले भजन है। हम उम्मीद करते हैं आपको यह Top 10 Hariom Sharan Bhajan Lyrics हरिओम शरण भजन लिरिक्स पसंद आएंगे।

Hariom Sharan

Hariom Sharan (26 सितंबर 1932 – 18 दिसंबर 2007) एक भारतीय हिंदू भक्ति गायक और गीतकार थे। उन्होंने अपना अधिकांश करियर सीता, राम और हनुमान की स्तुति में भक्ति गीत गाने में समर्पित कर दिया। 1970 के दशक में एक भजन गायक के रूप में उन्होंने प्रेमंजलि पुष्पांजलि, और दाता एक राम जैसे एल्बम रिकॉर्ड किए। उनके भजन जैसे ‘तेरा राम जी करेंगे बेडा पार’, ‘मैली चादर ओढ़के कैसे’, ‘आरती कुंज बिहारी की’, ‘ऐसा प्यार बहा दे मैय्या’, ‘श्री राधे गोविंदा’, ‘हनुमान चालीसा’, ‘गोविंद जय जय गोपाल’ जय जय’ दुनिया भर के भक्तों के बीच बहुत लोकप्रिय है। 35 से अधिक वर्षों की अपनी भक्ति रिकॉर्डिंग के दौरान, उन्होंने 20 से अधिक भजन एल्बम जारी किए।

Top 10 Hariom Sharan Bhajan Lyrics | हरिओम शरण भजन लिरिक्स

  1. Shree Radhey Govinda
  2. Maili Chadar Odhe Ke
  3. Data Ek Ram
  4. Aisa Pyar Baha De Re Maiya
  5. Tera Ramji Karenge Beda Paar
  6. Sweekaro Mera Pranaam
  7. Ram Sumir Ke Raham Kre Na
  8. Shiv Bhola Bhandari
  9. Rakh Laaj Meri Ganpati
  10. Sain Teri Yaad Maha Sukhdai

1. Shree Radhey Govinda श्री राधे गोविंदा

जय गणेश गणनाथ दयानिधि
सकल विघ्न कर दूर हमारे
मम वंदन स्वीकार करो प्रभु
चरण शरण हम आए तुम्हारे

जय गणेश गणनाथ दयानिधि
जय नंदलाला, जय गोपाला
जय नंदलाला, जय जय

श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है
श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है
गोपाला हरी का प्यारा नाम है
नंदलाला हरी का प्यारा नाम है
श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है

मोर मुकुट सिर, गलबन माला
केसर तिलक लगाए, केसर तिलक लगाए
मोर मुकुट सिर, गलबन माला
केसर तिलक लगाए, केसर तिलक लगाए
वृंदावन की कुंज गलिन में सबको नाच नचाए
ओहो सबको नाच नचाए

श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है
गोपाला हरी का प्यारा नाम है
नंदलाला हरी का प्यारा नाम है

श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है
जय नंदलाला, जय गोपाला
जय नंदलाला, जय गोपाला

यमुना किनारे फेन चरावे
माधव मदन मुरारी, माधव मदन मुरारी
यमुना किनारे फेन चरावे
माधव मदन मुरारी, माधव मदन मुरारी
मधुर मुरलिया जभी बजावे
हर ले सुध बुध सारी
ओहो हर ले सुध बुध सारी

श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है
गोपाला हरी का प्यारा नाम है
नंदलाला हरी का प्यारा नाम है
श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है

गिरिधर नागर कहती मीरा
सूर को श्यामल भाया, सूर को श्यामल भाया
गिरिधर नागर कहती मीरा
सूर को श्यामल भाया, सूर को श्यामल भाया
तुकाराम और नामदेव ने विट्ठल विट्ठल गया
ओहो विट्ठल विट्ठल गया

श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है
गोपाला हरी का प्यारा नाम है
नंदलाला हरी का प्यारा नाम है

श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है
जय नंदलाला, जय गोपाला
जय नंदलाला, जय गोपाला

राधा शक्ति बिना ना कोई श्यामल दर्शन पावे
श्यामल दर्शन पावे
राधा शक्ति बिना ना कोई श्यामल दर्शन पावे
श्यामल दर्शन पावे
आराधन कर राधे राधे, कान्हा भागे आवें
ओहो कान्हा भागे आवें

श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है
श्री राधे गोविंदा, मन भज ले हरी का प्यारा नाम है

2. Maili Chadar Odhe Ke मैली चादर ओढ़ के

मैली चादर ओढ़ के कैसे,
द्वार तुम्हारे आऊं,
हे पावन परमेश्वर मेरे,
मन ही मन शरमाऊँ ।
मैली चादर ओढ़ के कैसे,
द्वार तुम्हारे आऊं ।

तूने मुझको जग में भेजा,
निर्मल देकर काया,
आकर के संसार में मैंने,
इसको दाग लगाया ।
जनम जनम की मैली चादर,
कैसे दाग छुड़ाऊं,
मैली चादर ओढ़ के कैसे,
द्वार तुम्हारे आऊं ।

निर्मल वाणी पाकर तुझसे,
नाम ना तेरा गाया,
नैन मूँदकर हे परमेश्वर,
कभी ना तुझको ध्याया ।
मन वीणा की तारे टूटी,
अब क्या राग सुनाऊँ,
मैली चादर ओढ़ के कैसे,
द्वार तुम्हारे आऊं ।

इन पैरों से चलकर तेरे,
मंदिर कभी ना आया,
जहाँ जहाँ हो पूजा तेरी,
कभी ना शीश झुकाया ।
हे हरिहर मैं हार के आया,
अब क्या हार चढ़ाऊँ,
मैली चादर ओढ़ के कैसे,
द्वार तुम्हारे आऊं ।

तू है अपरम्पार दयालु,
सारा जगत संभाले,
जैसा भी हूँ मैं हूँ तेरा,
अपनी शरण लगाले ।
छोड़ के तेरा द्वारा दाता,
और कहीं नहीं जाऊं,
मैली चादर ओढ़ के कैसे,
द्वार तुम्हारे आऊं ।

मैली चादर ओढ़ के कैसे,
द्वार तुम्हारे आऊं,
हे पावन परमेश्वर मेरे,
मन ही मन शरमाऊँ ।

3. Data Ek Ram दाता एक राम

दाता एक राम भिखारी सारी दुनिया,
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ।

द्वारे पे उसके जाके कोई भी पुकारता,
परम कृपा दे अपनी भव से उभारता,
हो परम कृपा दे अपनी भव से उभारता,
ऐसे दीनानाथ पे बलिहारी सारी दुनिया ।
दाता एक राम भिखारी सारी दुनिया,
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ।

दो दिन का जीवन प्राणी कर ले विचार तू,
प्यारे प्रभु को अपने मन में निहार तू,
हो प्यारे प्रभु को अपने मन में निहार तू,
बिना हरी नाम के दुखिआरी सारी दुनिया ।
दाता एक राम भिखारी सारी दुनिया,
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ।

नाम का प्रकाश जब अंदर जगायेगा,
प्यारे श्री राम का तू दर्शन पायेगा,
हो प्यारे श्री राम का तू दर्शन पायेगा,
ज्योति से जिसकी है उजयारी सारी दुनिया ।

दाता एक राम भिखारी सारी दुनिया,
राम एक देवता, पुजारी सारी दुनिया ।

4. Aisa Pyar Baha De Re Maiya ऐसा प्यार बहा दे मैया

ऐसा प्यार बहा दे मैया, चरणों से लग जाऊ मैं ।
सब अंधकार मिटा दे मैया, दरस तेरा कर पाऊं मैं ।।

जग मैं आकर जग को मैया, अब तक न मैं पहचान सका |
क्यों आया हूँ कहाँ है जाना, यह भी ना मै जान सका |
तू है अगम अगोचर मैया, कहो कैसे लख पाऊं मैं ||

कर कृपा जगदम्बे भवानी, मैं बालक नादान हूँ |
नहीं आराधन जप तप जानूं, मैं अवगुण की खान हूँ |
दे ऐसा वरदान हे मैया, सुमिरन तेरा ग़ाऊ मैं ।|

मै बालक तू माया मेरी, निष् दिन तेरी ओट है |
तेरी कृपा से ही मिटेगी, भीतर जो भी खोट है |
शरण लगा लो मुझ को मईया, तुज पे बलि बलि जाऊ मैं ||

5. Tera Ramji Karenge Beda Paar तेरा रामजी करेंगे बेडा पार

राम नाम सोहि जानिये,
जो रमता सकल जहान
घट घट में जो रम रहा,
उसको राम पहचान

तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार,
उदासी मन काहे को करे ।
काहे को करे रे, काहे को करे…

नैया तेरी राम हवाले,
लहर लहर हरि आप सँभाले ।
हरि आप ही उठावे तेरा भार,
उदास मन काहे को करे ॥
तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार…

काबू में मँझधार उसी के,
हाथों में पतवार उसी के ।
तेरी हार भी नहीं है तेरी हार,
उदासी मन काहे को करे ॥
तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार…

सहज किनारा मिल जायेगा,
परम सहारा मिल जायेगा ।
डोरी सौंप के तो देख एक बार,
उदास मन काहे को करे ॥
तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार…

तू निर्दोष तुझे क्या डर है,
पग पग पर साथी ईश्वर है ।
जरा भावना से कीजिये पुकार,
उदास मन काहे को करे ॥
तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार…

तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार,
उदासी मन काहे को करे ।
काहे को करे रे, काहे को करे…

तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार,
उदासी मन काहे को करे रे ।
तेरा रामजी करेंगे बेड़ा पार,
उदासी मन काहे को करे ।

6. Sweekaro Mera Pranaam स्वीकारो मेरा परनाम

सुख-वरण प्रभु नारायण हे
दु:ख-हरण प्रभु नारायण हे
तिरलोकपति दाता सुखधाम
स्वीकारो मेरा परनाम
स्वीकारो मेरा परनाम
स्वीकारो मेरा परनाम प्रभु

मन वाणी में वो शक्ति कहाँ जो
महिमा तुम्हरी गान करें
अगम अगोचर अविकारी
निर्लेप हो हर शक्ति से परे
हम और तो कुछ भी जाने ना
केवल गाते हैं पावन नाम
स्वीकारो मेरा परनाम
स्वीकारो मेरा परनाम प्रभु

आदि मध्य और अन्त तुम्ही
और तुम ही आत्म अधारे हो
भगतों के तुम प्राण प्रभु
इस जीवन के रखवारे हो
तुम में जीवें जनमें तुममें
और अन्त करें तुम में विश्राम
स्वीकारो मेरा परनाम
स्वीकारो मेरा परनाम प्रभु

चरन कमल का ध्यान धरूँ
और प्राण करें सुमिरन तेरा
दीनाश्रय दीनानाथ प्रभु
भव बंधन काटो हरि मेरा
शरणागत के (घन)श्याम हरि
हे नाथ मुझे तुम लेना थाम
स्वीकारो मेरा परनाम

7. Ram Sumir Ke Raham Kre Na राम सुमीर के रहम करे ना

राम सुमिर के रहम करेना
फिर कैसे सुख कैसे पायेगा
कृष्ण सुमिर के करम करे ना
यो ही जग से जायेगा
राम राम जय जय राम
ओ भगवान् को भजने वाले
क्या भगवान् को जाना है
पास पड़ोस दुखी दिनों में
क्या उसको पहचाना है

जब तक तेरी खुदी ना टूटे
खुदा नजर न आएगा
राम सुमिर के रहम करे ना
फिर कैसे सुख कैसे पायेगा
कृष्ण सुमिर के करम करें ना
राम सुमिर के रहम करे ना
फिर कैसे सुख कैसे पायेगा
राम राम जय जय राम
राम सुमिर के रहम करे ना
फिर कैसे सुख कैसे पायेगा
ये संसार करम की खेती
जो बोये वो ही वो ही पाए
प्रेम प्यार से सींच ले जीवन
ये अवसर फिर ना आये
चार दिनों का जीवन है ये
कब तक ठोकर खायेगा
राम सुमिर के रहम करे ना
फिर कैसे सुख कैसे पायेगा
राम राम जय जय राम
राम सुमिर के रहम करेना
फिर कैसे सुख कैसे पायेगा
कृष्ण सुमिर के करम करें ना
यो ही जग से जायेगा
अन्दर तेरे अन्तर्यामी
रोज तुझे समझाता है,
क्या भला बुरा क्या करना तुझे
राह तुझे दिखलाता है
मन की कही ते चलने वाले
फिर पीछे पछतायेगा
राम सुमिर के रहम करे ना
फिर कैसे सुख कैसे पायेगा
राम राम जय जय राम
शरण गाहे बिन जाप है निष्फल
निष्फल है जीवन तेरा
जनम मरण की आस ना छूटे
रहे दुखो से नित घेरा
पाप गठरिया भारी हो गयी
कैसे बोझ उठाएगा
राम सुमिर के रहम करेना
फिर कैसे सुख कैसे पायेगा
राम राम जय जय राम

8. Shiv Shankar Rakhwala Mera शिव शंकर रखवाला मेरा

ॐ…
कर्पुरगौरं
करुणावतारं
संसार सारं
भुजगेन्द्रहारम
सदा वसन्तं
हृदयारविन्दे
भवं भवानी
सहितं नमामि
भवं भवानी
सहितं नमामि

शिव शंकर रखवाला मेरा
शिव शंकर रखवाला मेरा
शिव शंकर रखवाला मेरा
शिव शंकर रखवाला

मंगल कारी नाम है उनका
मंगल कारी नाम है उनका
शम्भू भोला भला
मेरा शिव शंकर रखवाला
मेरा शिव शंकर रखवाला
मेरा शिव शंकर रखवाला

जिनकी महिमा ऋषि मुनि गाये
योगी जिनका ध्यान लगाये
जिनकी महिमा ऋषि मुनि गाये
योगी जिनका ध्यान लगायें

मन उनका मतवाला मेरा
मन उनका मतवाला मेरा
शिव शंकर रखवाला

जो भी शिव शिव नाम ध्यावे
वो ही मन वांछित फल पावें
जो भी शिव शिव नाम ध्यावे
वो ही मन वांछित फल पावें

ऐसा शिव किरपाला मेरा
ऐसा शिव किरपाला मेरा
शिव शंकर रखवाला

विध्न हरे संताप मिटायें
युग युग की सब पाप जलायें
विध्न हरे संताप मिटायें
युग युग की सब पाप जलायें

ऐसी नेत्र की ज्वाला मेरा
ऐसी नेत्र की ज्वाला मेरा
शिव शंकर रखवाला

ज्ञानी जिन्हे विचारक हारे
भक्तन के वो खड़ा द्वारे
ज्ञानी जिन्हे विचारक हारे
भक्तन के वो खड़ा द्वारे

ऐसा दीनदयाला मेरा
ऐसा दीनदयाला मेरा
शिव शंकर रखवाला

शिव शंकर रखवाला मेरा
शिव शंकर रखवाला मेरा
शिव शंकर रखवाला मेरा
शिव शंकर रखवाला

9. Rakh Laaj Meri Ganpati रख लाज मेरी गणपति

रख लाज मेरी गणपति,
अपनी शरण में लीजिए।
कर आज मंगल गणपति,
अपनी कृपा अब कीजिए॥
रख लाज मेरी गणपति…

सिद्धि विनायक दुःख हरण,
संताप हारी सुख करण।
करूँ प्रार्थना मैं नित्त प्रति,
वरदान मंगल दीजिए॥

रख लाज मेरी गणपति,
अपनी शरण में लीजिए।
कर आज मंगल गणपति,
अपनी कृपा अब कीजिए॥
रख लाज मेरी गणपति…

तेरी दया, तेरी कृपा,
हे नाथ हम मांगे सदा।
तेरे ध्यान में खोवे मति,
प्रणाम मम अब लीजिए॥

रख लाज मेरी गणपति,
अपनी शरण में लीजिए।
कर आज मंगल गणपति,
अपनी कृपा अब कीजिए॥
रख लाज मेरी गणपति…

करते प्रथम तव वंदना,
तेरा नाम है दुःख भंजना।
करना प्रभु मेरी शुभ गति,
अब तो शरण मे लीजिए॥

रख लाज मेरी गणपति,
अपनी शरण में लीजिए।
कर आज मंगल गणपति,
अपनी कृपा अब कीजिए॥
रख लाज मेरी गणपति…

10. Sain Teri Yaad Maha Sukhdai साई तेरी याद महा सुखदाय

बाबा तेरी याद महा सुखदाय
तुहि रक्वाल जगमे
तुहि रक्वाल जगमे
तुही सदा सहाय (x2)

साई तेरी याद…।

तुजको भूल जग अंधियारा
सुमिरन बिन मन में अन्धियारा
तुजको भूल जग दुखीरा
सुमिरन बिन मन में अन्धियारा
धुन कृपा कर साई (x2)

साई तेरी याद …

मन ही है एह तेरा द्वार
बैत येहि से तुजको पुकारा
प्रेम की ज्योति जलये (x2)

साई तेरी याद …

साँची प्रीत बाजी दाता
है जग का सब झोटा नाटा
साँची प्रीत तुमहारी दाता
है जग का सब झोटा नाटा
तू चरणन शारनाय (x2)

बाबा तेरी याद महा सुखदाय
तुहि रक्वाल जगमे
तुहि रक्वाल जगमे
तुही सदा सहाय (x2)

साई तेरी याद…।

तुजको भूल जग अंधियारा
सुमिरन बिन मन में अन्धियारा
तुजको भूल जग दुखीरा
सुमिरन बिन मन में अन्धियारा
धुन कृपा कर साई (x2)

साई तेरी याद …

मन ही है एह तेरा द्वार
बैत येहि से तुजको पुकारा
प्रेम की ज्योति जलये (x2)

साई तेरी याद …

साँची प्रीत बाजी दाता
है जग का सब झोटा नाटा
साँची प्रीत तुमहारी दाता
है जग का सब झोटा नाटा
तू चरणन शारनाय (x2)

Added by

admin

SHARE

Your email address will not be published.